धार्मिक चालीसा - Chalisa

श्री शनि देव जी का चालीसा

Shani Dev Chalisa

Shani Dev Chalisa In Hindi, शनि ग्रह के प्रति अनेक आखयान पुराणों में प्राप्त होते हैं। शनिदेव को सूर्य पुत्र एवं कर्मफल दाता माना जाता है। मोक्ष को देने वाला एक मात्र शनि ग्रह ही है। सत्य तो यह ही है कि शनिदेव प्रकृति में संतुलन पैदा करते है और हर प्राणी के साथ उचित न्याय करते है। जो लोग अनुचित विषमता और अस्वाभाविक समता को आश्रय देते हैं, शनिदेव केवल उन्ही को दण्डिंत (प्रताडित) करते हैं। शनि देव की पूजा अर्चना करने से जातक के जीवन की कठिनाइयां दूर होती है। ...Read More

-Advertisement-

श्री गणेश जी का चालीसा

Ganesh Chalisa

Ganesh Chalisa In Hindi, सर्वप्रथम पूजनीय भगवान श्रीगणेश की कृपा पाने का एक माध्यम या एक ऐसा मार्ग है, जो किसी भी कार्य को पूर्ण करने में सहायक है। माना जाता है कि श्री गणेश की आराधना करने से घर में खुशहाली, व्यापार में बरकत तथा हर कार्य में सफलता प्राप्त होती है। यदि सुबह सुवेरे नियमित रुप से गणेश चालीसा का पाठ किया जाए तो घर में खुशहाली रहती है। ...Read More

श्री गंगा माता जी का चालीसा

Ganga Chalisa

Ganga Mata Chalisa In Hindi, हिन्दू मान्यताओं के अनुसार, गंगा सबसे पवित्रतम नदी है। शास्त्रों में इसे पतितपावनी अर्थात लोगों के पाप को धोने वाली नदी कहकर प्रशंसा की गई है। प्रतिवर्ष ज्येष्ठ माह की शुक्ल पक्ष की दशमी को गंगा दशहरा का पर्व मनाया जाता है। भगीरथ की तपस्या के बाद जब माँ गंगा पृथ्वी पर आई तो उस दिन ज्येष्ठ शुक्ल पक्ष की दशमी थी। ...Read More

-Advertisement-

श्री सूर्य देव जी का चालीसा

Surya Dev Chalisa

Surya Dev Chalisa In Hindi, सूर्य देव हिन्दू धर्म के देवता हैं। वेदों के अनुसार सूर्य देव इस जगत की आत्मा है। भगवान सूर्यदेव को ही जगत की उत्पत्ति तथा अंत का कारण माना जाता है। सूर्य देव की आराधना पुत्र की प्राप्ति के लिए शुभ फलदायी होती है। सूर्य देव को एक प्रत्यक्ष देव माना जाता है। सूर्य देव की पूजा में गायत्री मंत्र के साथ उनकी चालीसा भी पढ़ी जाती है। ...Read More

-Advertisement-

श्री तुलसी माता जी का चालीसा 

Tulasi Mata Chalisa

Tulasi Mata Chalisa In Hindi, हिन्दू धर्म में तुलसी को देवी के रूप में सम्मानित किया गया है। तुलसी को भगवान विष्णु की पत्नी माना गया है। तुलसी को अक्सर भगवान विष्णु की प्रिय या विष्णुप्रिया के रूप में बुलाया जाता है। पुराणों के अनुसार जिस घर के आंगन में तुलसी होती है वहां कभी अकाल मृत्यु या शोक नहीं होता है। माना जाता है कि तुलसी के प्रतिदिन दर्शन और पूजन करने से पाप नष्ट हो जाते हैं तथा मोक्ष की प्राप्ति होती है। ...Read More