आरती देवी अन्नपूर्णा जी की

Annapoorana Mata Religious Aarti

"आरती" बारम्बार प्रणाम, मैया बारम्बार प्रणाम... जो नहीं ध्यावे तुम्हें अम्बिके, कहां उसे विश्राम। अन्नपूर्णा देवी नाम तिहारो, लेत होत सब काम॥ बारम्बार... प्रलय युगान्तर और जन्मान्तर, कालान्तर तक नाम। सुर सुरों की रचना करती, कहाँ कृष्ण कहाँ राम॥ बारम्बार... चूमहि चरण चतुर चतुरानन, चारु चक्रधर श्याम। चंद्रचूड़ चन्द्रानन चाकर, शोभा लखहि ललाम॥ बारम्बार... ...Read More

धार्मिक आरती

-Advertisement-

सूर्य देव की आरती

Surya Dev Religious Aarti

"आरती" ऊँ जय सूर्य भगवान, जय हो दिनकर भगवान। जगत् के नेत्र स्वरूपा, तुम हो त्रिगुण स्वरूपा। धरत सब ही तव ध्यान, ऊँ जय सूर्य भगवान।। सारथी अरूण हैं प्रभु तुम, श्वेत कमलधारी। तुम चार भुजाधारी। अश्व हैं सात तुम्हारे, कोटी किरण पसारे। तुम हो देव महान।। ऊँ जय सूर्य.... ऊषाकाल में जब तुम, उदयाचल आते।...Read More

धार्मिक आरती

सरस्वती माता की आरती

Saraswati Mata Religious Aarti

"आरती" कज्जल पुरित लोचन भारे, स्तन युग शोभित मुक्त हारे। वीणा पुस्तक रंजित हस्ते, भगवती भारती देवी नमस्ते॥ जय सरस्वती माता, जय जय हे सरस्वती माता। दगुण वैभव शालिनी, त्रिभुवन विख्याता ॥ जय सरस्वती माता, जय जय हे सरस्वती माता। चंद्रवदनि पदमासिनी, घुति मंगलकारी। सोहें शुभ हंस सवारी, अतुल तेजधारी॥ जय सरस्वती माता, जय जय...Read More

धार्मिक आरती

-Advertisement-

शिव जी की आरती

Shiv Ji Religious Aarti

"आरती" कर्पूरगौरं करुणावतारं संसारसारं भुजगेन्द्रहारं। सदा वसन्तं ह्रदयाविन्दे भंव भवानी सहितं नमामि॥ जय शिव ओंकारा हर ॐ शिव ओंकारा। ब्रम्हा विष्णु सदाशिव अद्धांगी धारा॥ ॐ जय शिव ओंकारा...... एकानन चतुरानन पंचांनन राजे। हंसासंन, गरुड़ासन, वृषवाहन साजे॥ ॐ जय शिव ओंकारा...... दो भुज चारु चतुर्भज दस भुज अति सोहें। तीनों रुप निरखता त्रिभुवन जन...Read More

धार्मिक आरती

-Advertisement-

संतोषी माता की आरती

Santoshi Mata Religious Aarti

"आरती" जय संतोषी माता, मैया जय संतोषी माता। अपने सेवक जन को, सुख संपति दाता॥ जय सुंदर चीर सुनहरी, मां धारण कीन्हो। हीरा पन्ना दमके, तन श्रृंगार लीन्हो॥ जय गेरू लाल छटा छवि, बदन कमल सोहे। मंद हँसत करूणामयी, त्रिभुवन जन मोहे॥ जय स्वर्ण सिंहासन बैठी, चंवर ढुरे प्यारे। धूप, दीप, मधुमेवा, भोग धरें न्यारे॥...Read More

धार्मिक आरती