हिंदी में जनरल नॉलेज (General Knowledge in Hindi). . .


महाशिवरात्रि स्लोगन

Mahashivratri Slogan Hymn - Prayer

महाशिवरात्रि स्लोगन (Mahashivratri Slogan in Hindi) सावन के महीने में भगवान शिव की पूजा की जाती है, खास तौर पर सोमवार के दिन। सावन के महीने में ही महाशिवरात्रि का पर्व भी पड़ता है, जिसे भारत में तथा विदेशो में भी बहुत धूम-धाम से मानते हैं। महाशिवरात्रि के कुछ स्लोगन यहाँ पढ़े। . . . Read More . . .

Advertisement

भगवान शिव के १०८ नाम

Bhagwaan Shiv Ke 108 Naam Hymn - Prayer

भगवान शिव के १०८ नाम (Bhagwaan Shiv Ke 108 Naam Aur Arth in Hindi) भगवान शिव को वैसे तो शिव और शंकर नाम से ही जाना जाता है तथा सावन के महीने में भगवान शिव की विशेष पूजा की जाती है, लेकिन भगवान शिव के १०८ नाम है। भगवान शिव के सभी नाम और अर्थ यहाँ पढ़े। . . . Read More . . .


आरती कुंजबिहारी की

Kunj Bihari Religious Aarti

आरती कुंजबिहारी की (Aarti Kunj Bihari In Hindi) यह आरती समस्त प्रसिद्ध आरतियों में से एक है। यह भगवान श्री कृष्णा का पूजन करते समय यथा श्रीकृष्ण के जन्म जन्माष्टमी के अवसर पर कुंजबिहारी की आरती की स्तुति की जाती है। इनका पूजन ना सिर्फ आर्थिक समस्या दूर करता है बल्कि जीवन की हर परेशानी को दूर करने में सहायक सिद्ध होता है। . . . Read More . . .

Advertisement

रामचन्द्र जी की आरती

Ram Chandra Religious Aarti

रामचन्द्र जी की आरती (Ram Chandra Aarti In Hindi) रामचन्द्र अयोध्या के राजा दशरथ और रानी कौशल्या के सबसे बडे पुत्र थे। राम की पत्नी का नाम सीता था (जो लक्ष्मी का अवतार मानी जाती हैं) और इनके तीन भाई थे- लक्ष्मण, भरत और शत्रुघ्न। हनुमान, भगवान राम के, सबसे बड़े भक्त माने जाते है। राम ने राक्षस जाति के राजा रावण का वध किया। . . . Read More . . .

Advertisement

लक्ष्मी माता की आरती

Laxmi Mata Religious Aarti

लक्ष्मी माता की आरती (Laxmi Mata Aarti In Hindi) लक्ष्मी माता हिन्दू धर्म की एक प्रमुख देवी हैं। वो भगवान विष्णु की पत्नी हैं और धन, सम्पदा, शान्ति तथा समृद्धि की देवी मानी जाती हैं। दीपावली के त्योहार में उनकी गणेश सहित पूजा की जाती है। गायत्री की कृपा से मिलने वाले वरदानों में एक लक्ष्मी भी है। जिस पर यह अनुग्रह उतरता है, वह दरिद्र, दुर्बल, कृपण, असंतुष्ट एवं पिछड़ेपन से ग्रसित नहीं रहता। स्वच्छता एवं सुव्यवस्था के . . . Read More . . .


Categories