होमर का जीवन परिचय

Homer Jeevan Parichay Biography

होमर का जीवन परिचय Homer Biography in Hindi, होमर यूनान के ऐसे प्राचीनतम कवियों में से हैं जिनकी रचनाएँ आज भी उपलब्ध हैं और जो बहुमत से यूरोप के सबसे महान कवि स्वीकार किए जाते हैं। वे अपने समय की सभ्यता तथा संस्कृति की अभिव्यक्ति का प्रबल माध्यम माने जाते हैं। अन्धे होने के बावजूद उन्होंने दो महाकाव्यों की रचना की - इलियड और ओडिसी। ...Read More

बायोग्राफी

-Advertisement-

मार्टिन लुथर का जीवन परिचय

Martin Luther Jeevan Parichay Biography

मार्टिन लुथर का जीवन परिचय, Martin Luther Biography in Hindi, लूथर का जन्म जर्मनी की आइसलेवन नामक नगरी में हुआ था। उनके पिता हैंस लूथर खान के मजदूर थे, जिनके परिवार में कुल मिलाकर आठ बच्चे थे और मार्टिन उसकी दूसरी संतान थे। अट्ठारह वर्ष की अवस्था में मार्टिन लूथर एरफुर्ट के नए विश्वविद्यालय में भरती हुए और सन् 1505 में उन्हें एम.ए. की उपाधि मिली। इसके बाद वह अपने पिता के इच्छानुसार विधि (कानून) का अध्ययन कने लगे किंतु एक भयंकर तूफान में अपने जीवन को जोखिम में समझकर उन्होंने संन्यास लेने की मन्नत की। इसके फल्स्वरूप वह...Read More

बायोग्राफी

कार्ल मार्क्स का जीवन परिचय

Karl Marx Jeevan Parichay Biography

कार्ल मार्क्स का जीवन परिचय, Karl Marx Biography in Hindi, कार्ल हेनरिख मार्क्स (1818 - 1883) जर्मन दार्शनिक, अर्थशास्त्री और वैज्ञानिक समाजवाद का प्रणेता थे। इनका जन्म 5 मई 1818 को त्रेवेस (प्रशा) एक यहूदी परिवार में उत्पन्न हुआ। 1824 में उसके परिवार ने ईसाई धर्म स्वीकार कर लिया। 17 वर्ष की अवस्था में मार्क्स ने कानून का अध्ययन करने के लिए बॉन विश्वविद्यालय में प्रवेश किया। तत्पश्चात् उसने बर्लिन और जेना विश्व-विद्यालयों में साहित्य, इतिहास और दर्शन का अध्ययन किया। इसी काल में वह हीगेल के दर्शन से बहुत प्रभावित हुआ। 1839-41 में उसने दिमॉक्रितस और एपीक्यूरस के...Read More

बायोग्राफी

-Advertisement-

विलियम शेक्सपीयर का जीवन परिचय

William Shakespeare Jeevan Parichay Biography

विलियम शेक्सपीयर का जीवन परिचय, William Shakespeare Biography in Hindi, विलियम शेक्सपियर, जॉन शेक्सपियर तथा मेरी आर्डेन के ज्येष्ठ पुत्र एवं तीसरी संतान थे। इनका जन्म स्ट्रैटफोर्ड आन एवन में हुआ। बाल्यकाल में उनकी शिक्षा स्थानीय फ्री ग्रामर स्कूल में हुई। पिता की बढ़ती हुई आर्थिक कठिनाइयों के कारण उन्हें पाठशाला छोड़कर छोटे मोटे धंधों में लग जाना पड़ा। जीविका के लिए उन्होंने लंदन जाने का निश्चय किया। इस निश्चय का एक दूसरा कारण भी था। कदाचित् चार्ल कोट के जमींदार सर टामस लूसी के उद्यान से हिरण की चोरी की ओर कानूनी कार्यवाही के भय से उन्हें अपना...Read More

बायोग्राफी

-Advertisement-

इमानुएल कांट का जीवन परिचय

Immanuel Kant Jeevan Parichay Biography

इमानुएल कांट का जीवन परिचय, Immanuel Kant Biography in Hindi, इमानुएल कांट जर्मनी के पूर्वी प्रशा प्रदेश के अंतर्गत, कोनिगुज़बर्ग (Königsland) नगर में घोड़े का साधारण साज बनानेवाले के घर 22 अप्रैल सन् 1724 ई. को पैदा हुए थे। कोनिगुज़बर्ग शहर आज रूस में है और अब इसका नाम कालिनिनग्राद Kaliningrad है। उसकी प्रारंभिक शिक्षा अपनी माता की देखरेख में हुई थी, जो अपने समय के "पवित्र मार्ग" (पायाटिज्म) नामक धार्मिक आंदोलन से बहुत प्रभावित थी। अतएव, अल्पायु में ही वह धर्मानुमोदित आचरण, सरल, सुव्यवस्थित एवं अध्यवसायपूर्ण जीवन में रुचि रखने लगा था। 16 वर्ष की आयु में, "कॉलेजियम...Read More

बायोग्राफी