1. होम
  2. ज्ञानवर्धक कहानियाँ
  3. जीवन में पति का महत्व - ज्ञानवर्धक कहानी

जीवन में पति का महत्व - ज्ञानवर्धक कहानी

जीवन में पति का महत्व कहानी, Jivan Me Pati Ka Mahatva Moral Stories in Hindi, एक युवती बगीचे में बहुत गुस्से में बैठी थी, पास ही एक बुजुर्ग बैठे थे उन्होने उस परेशान युवती से पूछा -

Pati Ka Mahatva Moral Stories

-Advertisement-

क्या हुआ बेटी? क्यूं इतना परेशान हो?

युवती ने गुस्से में अपने पति की गल्तीयों के बारे में बताया.........

बुजुर्ग ने मंद मंद मुस्कराते हुए युवती से पूछा बेटी क्या तुम बता सकती हो तुम्हारे घर का नौकर कौन है?

युवती ने हैरानी से पूछा क्या मतलब?

बुजुर्ग ने कहा - तुम्हारे घर की सारी जरूरतों का ध्यान रख कर उनको पूरा कौन करता है?

युवती - मेरे पति

बुजुर्ग ने पूछा - तुम्हारे खाने पीने की और पहनने ओढ़ने की जरूरतों को कौन पूरा करता है?

युवती - मेरे पति

बुजुर्ग - तुम्हें और बच्चों को किसी बात की कमी ना हो और तुम सबका भविष्य सुरक्षित रहे इसके लिए हमेशा चिंतित कौन रहता है?

युवती - मेरे पति

बुजुर्ग ने फिर पूछा - सुबह से शाम तक कुछ रुपयों के लिए बाहर वालों की और अपने अधिकारियों की खरी खोटी हमेशा कौन सुनता है?

युवती - मेरे पति

बुजुर्ग - परेशानी ऒर गम में कॊन साथ देता है?

युवती - मेरे पति

बुजुर्ग - तुम लोगोँ के अच्छे जीवन और रहन सहन के लिए दूरदराज जाकर, सारे सगे संबंधियों को यहां तक अपने माँ बाप को भी छोड़कर जंगलों में भी नौकरी करने को कौन तैयार होता है?

युवती - मेरे पति

बुजुर्ग - घर के गैस बिजली पानी, मकान, मरम्मत एवं रखरखाव, सुख सुविधाओं, दवाईयों, किराना, मनोरंजन भविष्य के लिए बचत, बैंक, बीमा, अस्पताल, स्कूल, कॉलेज, पास पड़ोस, ऑफिस और ऐसी ही ना जाने कितनी सारी जिम्मेदारियों को एक साथ लेकर कौन चलता है?

युवती - मेरे पति

बुजुर्ग - बीमारी में तुम्हारा ध्यान ऒर सेवा कॊन करता है?

युवती - मेरे पति

बुजुर्ग बोले - एक बात ऒर बताओ तुम्हारे पति इतना काम ऒर सबका ध्यान रखते है क्या कभी उसने तुमसे इस बात के पैसे लिए?

युवती - कभी नहीं

इस बात पर बुजुर्ग बोले कि पति की एक कमी तुम्हें नजर आ गई मगर उसकी इतनी सारी खुबियां तुम्हें कभी नजर नही आई? आखिर पत्नी के लिए पति क्यों जरूरी है? मानो न मानो जब तुम दुःखी हो तो वो तुम्हे कभी अकेला नहीं छोड़ेगा। वो अपने दुःख अपने ही मन में रखता है लेकिन तुम्हें नहीं बताता ताकि तुम दुखी ना हो। हर वक्त, हर दिन तुम्हे कुछ अच्छी बातें सिखाने की कोशिश करता रहता है ताकि वो कुछ समय शान्ति के साथ घर पर व्यतीत कर सके और दिन भर की परेशानियों को भूला सके। हर छोटी छोटी बात पर तुमसे झगड़ा तो कर सकता है, तुम्हें दो बातें बोल भी लेगा परंतु किसी और को तुम्हारे लिए कभी कुछ नहीं बोलने देगा। तुम्हें आर्थिक मजबूती देगा और तुम्हारा भविष्य भी सुरक्षित करेगा।

कुछ भी अच्छा ना हो फिर भी तुम्हें यही कहेगा - चिन्ता मत करो, सब ठीक हो जाएगा। माँ बाप के बाद तुम्हारा पूरा ध्यान रखना और तुम्हे हर प्रकार की सुविधा और सुरक्षा देने का काम करेगा। तुम्हें समय का पाबंद बनाएगा। तुम्हे चिंता ना हो इसलिए दिन भर परेशानियों में घिरे होने पर भी तुम्हारे 15 बार फ़ोन करने पर भी सुनेगा और हर समस्या का समाधान करेगा। चूंकि पति ईश्वर का दिया एक स्पेशल उपहार है, इसलिए उसकी उपयोगिता जानो और उसकी देखभाल करो।

बुजुर्ग की बातें सुनकर युवती को अपनी पति के महत्व का अंदाजा हो गया और वह ख़ुशी-ख़ुशी अपने घर लौट गई।

नोट :- आपको ये पोस्ट कैसी लगी, कमेंट्स बॉक्स में जरूर लिखे और शेयर करें, धन्यवाद।

-Advertisement-

-Advertisement-

Related Posts :

  1. शारीरिक सुख का लोभ - ज्ञानवर्धक कहानी
  2. हंस और हंसिनी - ज्ञानवर्धक कहानी