अम्बे गौरी

आप यहाँ अम्बे गौरी सम्बंधित सभी आर्टिकल पढ़ सकते है।

महागौरी माता जी की आरती

Mahagauri Mata Aarti Religious Aarti

"आरती" जय महागौरी जगत की माया। जया उमा भवानी जय महामाया॥ हरिद्वार कनखल के पासा। महागौरी तेरी वहां निवासा॥ चंद्रकली ओर ममता अंबे। जय शक्ति जय जय माँ जगंदबे॥ भीमा देवी विमला माता। कौशिकी देवी जग विख्यता॥ हिमाचल के घर गौरी रूप तेरा। महाकाली दुर्गा है स्वरूप तेरा॥ सती {सत} हवन कुंड में...Read More

धार्मिक आरती

अम्बे माता की आरती

Ambey Mata Aarti Religious Aarti

"आरती" जय अम्बे गौरी मैया, जय श्यामा गौरी, तुमको निसदिन ध्यावत , हरि ब्रह्मा शिवजी॥ जय अम्बे गौरी...... मांग सिंदूर बिराजत, टिको मृगमद को, उज्जवल से दोउ नैना, चन्द्रवदन निको॥ जय अम्बे गौरी..... कनक सामान कलेवर, रक्ताम्बर राजे , रक्तपुष्प गलमाला, कंठन पर साजे॥ जय अम्बे गौरी....... केहरी वाहन राजत, खड्ग खप्पर धारी सुर-नर-मुनि-जन सेवत...Read More

धार्मिक आरती

दुर्गा माता जी की आरती

Durga Mata Religious Aarti

"आरती" जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी तुम को निस दिन ध्यावत। मैयाजी को निस दिन ध्यावत हरि ब्रह्मा शिवजी॥ जय अम्बे गौरी॥ माँग सिन्दूर विराजत टीको मृग मद को। मैया टीको मृगमद को। उज्ज्वल से दो नैना चन्द्रवदन नीको॥ जय अम्बे गौरी॥ कनक समान कलेवर रक्ताम्बर साजे। मैया रक्ताम्बर साजे। रक्त पुष्प गले माला...Read More

धार्मिक आरती